Loading...

Tuesday, November 19, 2013

ज़माना


अगर  सागर  से  मोती  ही चुराना  था
बहुत  गहरा  तुम्हे  गोता  लगाना  था
मोती खुद - ब - खुद आते किनारों पर
कभी ऐसा भी होता, 'जय' ज़माना था

चित्र साभार : गूगल