Loading...

Saturday, November 16, 2013

जिंदगी में मुर्दनी



अब विकल्पों में कमी आने लगी है 
अब जिंदगी में मुर्दनी छाने लगी है
हादसे 'जय' होते ही रहते सदा क्यों
मंज़िलें  क्यों दूर अब जाने लगी हैं


चित्र साभार : गूगल