Loading...

Wednesday, November 13, 2013

हमारी जिम्मेदारी




अपने  बच्चों  के लिए, थोड़ा सम य निकालें  हम
उनके  संग  बैठें, खेलें, खाएं, उन्हें  सम्भालें  हम
लगे रहे यदि जीवन भर 'जय, पैसे व व्यापार  में
बिगड़ गए यदि बच्चे तो  हो  जायेंगे दीवाले हम

(दीवाले = दीवालिए)  
  

चित्र सौजन्य : गूगल