Loading...

Tuesday, November 12, 2013

आगत माँ



बादल  से  हम बिजली को क्यों छीन रहे हैं 
तरुवर  से  हम  शाखों  को क्यों छीन रहे हैं 
बालिका भ्रूण की हत्या कर 'जय' धरती से 
आह ! स्वयं से आगत माँ  क्यों छीन रहे हैं

चित्र सौजन्य : गूगल